Wednesday 21st April 2021

पत्रकार एवं लेखक ललित गर्ग सम्मानित

पत्रकार एवं लेखक ललित गर्ग सम्मानित
गाजियाबाद, 13 नवम्बर 2019।सूर्यनगर एज्यूकेशनल सोसायटी (रजि॰) द्वारा संचालित विद्या भारती स्कूल के कार्यकारी अध्यक्ष, पत्रकार एवं लेखक श्री ललित गर्ग को ‘हिन्दी सेवा सम्मान’ से सम्मानित किया। यह सम्मान उन्हें भारत के प्रमुख हिन्दी समाचार एवं विचार वेब पोर्टल प्रभासाक्षी ने अपनी 18वीं वर्षगांठ पर उल्लेखनीय लेखन, हिन्दी सेवा, पत्रकारिता, शिक्षा एवं समाजसेवा के लिए कांस्टीटूशनल क्लब नई दिल्ली में आयोजित एक भव्य समारोह में पूर्व राज्यसभा सांसद एवं प्रख्यात लेखक श्री तरुण विजय, उत्तरप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्री अतुल गर्ग, भाजपा की शाजिया इल्मी, राष्ट्रीय प्रवक्ता जदयू श्री राजीव रंजन एवं प्रभासाक्षी के प्रमुख संपादक श्री नीरज कुमार दूबे ने प्रदत्त किया। श्री गर्ग को प्रशस्ति पत्र, दुपट्टा एवं शील्ड प्रदान कर इनका सम्मान किया। श्री गर्ग पिछले तीन दशक से राष्ट्रीय स्तर पर लेखन और पत्रकारिता के क्षेत्र में उल्लेखनीय सेवाएं प्रदत्त करते हुए हिन्दी की उल्लेखनीय सेवाएं कर रहे हैं। विदित हो गर्ग को राष्ट्रीय अणुव्रत लेखक पुरस्कार एवं महाप्रज्ञ प्रतिभा पुरस्कार सहित अनेक पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है। वे वर्तमान में भारत सरकार के गृह मंत्रालय के अंतर्गत राजभाषा समिति के सदस्य भी हैं। उत्तरप्रदेश के मंत्री श्री अतुल गर्ग ने इस अवसर पर हिन्दी को प्रोत्साहन एवं प्रतिष्ठापित करने की आवश्यकता व्यक्त करते हुए कहा कि श्री गर्ग ने इस दिशा में उल्लेखनीय प्रयत्न किए हैं।
समारोह के मुख्य वक्ता श्री तरुण विजय ने पांचजन्य के समय से श्री गर्ग के निकट संबंध एवं उनके नैतिक एवं स्वस्थ लेखन की प्रतिबद्धता की चर्चा करते हुए कहा कि श्री गर्ग सृजनशील प्रतिभा हैं, उनके लेखन में जीवंतता है और वर्तमान समस्याओं का सजीव चित्रण है।
प्रभासाक्षी के संपादक श्री नीरज दूबे ने विगत एक दशक से लगातार प्रभासाक्षी में प्रमुखता से स्थान पा रहे श्री ललित गर्ग के बारे में कहा कि वे हमारे देश एवं समाज की एक विशिष्ट प्रतिभा है। साहित्य, पत्रकारिता और सेवा की दृष्टि से इनकी राष्ट्र को विशिष्ट सेवाएं प्राप्त हो रही हैं। उन्होंने श्री गर्ग की उल्लेखनीय हिन्दी सेवाओं की चर्चा की।
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
CATEGORIES

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )