Wednesday 21st April 2021

कोरोना,न घबरायें हम

कविता*डॉ. अनिता जैन 'विपुला'




कोरोना का गज़ब कहर
लील रहा जीवन यहाँ,
देखते-देखते हो रहा
साँसों का दमन यहाँ।

चीन से इटली-लन्दन
अमरीका तक है पहुंचा,
दहशत फैलाते इस-
विषाणु का हुआ गमन यहाँ।

अब तक इलाज़ न सम्भव
हुआ सभी जुटे खोज में,
कर धोना, दूर रहना,
घर पर रहना-शमन यहाँ।

स्वच्छता अपनाएं, बुखार-
हो तो जाँच करावें,
जरूरत हो तभी घर से
निकलें- रखें अमन यहाँ।

कहे विपुला न घबरायें
हम आज भारतवासी,
हिम्मत से ही बचेगा
ज़िन्दगी का दामन यहाँ।

डॉ. अनिता जैन ‘विपुला’

खबर में कोरोना का वर्जन
कोरोना का एक ही,दिखता हमें इलाज।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
CATEGORIES
TAGS

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )